अपने टैलेंट को कैसे पहचाने ?

415 0

कोई माने या ना माने लेकिन ऊपर वाले ने हम सभी को कुछ ना कुछ हुनर जरूर दिया है चाहे हम उसे समझ पाते है या नहीं | हर एक व्यक्ति में कोई ना कोई हॉबी जरूर होती है जिसका मतलब होता है ऐसा काम, जिसे करने में हमें मजा आए, जिसके बारे में हम और जानना और सीखना चाहते है । अपनी हॉबी को पहचाने के लिए हमें अपनी पूरी दिनचर्या पर ध्यान देना होगा और जिस काम को करने मे सबसे ज्यादा मन लगता हैं, खुशी मिलती हैं,आत्म संतुष्टि होती हैं और  सब कुछ भूल कर हम उसमे लग जाते हैं तो यह काम ही हमारी हॉबी होती हैं ।

ये हो सकती है हॉबीज

  1. डांसिंग
  2. सिंगिंग
  3. पेंटिंग
  4. राइटिंग
  5. स्पोर्ट्स
  6. बुक्स रीडिंग
  7. टेक्नोलोजी
  8. मेकअप
  9. कुकिंग
  10. सिलाई

हॉबीज के फायदे

  1. पढ़ाई के बाद टाइम का सही उपयोग –

अगर स्टूडेंट हों तो उसका मुख्य काम होता हैं पढ़ाई करना लेकिन इसके बाद जो भी उनका शौक होता हैं इसके लिए समय का समय का सही उपयोग वे कर लेते है ।

  • कॅरियर बनाने मे हैल्प –

अगर हम अपनी हॉबी को अपने कॅरियर के रूप मे चुनते हैं और जो शौक हैं उसी मे कॅरियर बनाते हैं तो अच्छे परिणाम हासिल कर सकते हैं ।

  • क्रिएटिविटी का विकास –

यदि किया गया काम हमारी हॉबी से जुड़ा हुआ है तो हम उसे और बेहतर तरीके से क्रिएटिविटी के साथ करते है क्योकि ये हमारे इंटरेस्ट से जुड़ा हुआ विषय है | पसंद का काम अपने आप क्रिएटिविटी लाता है |

  • आत्म विश्वास –

यदि किया जा रहा काम अपनी पसंद और चॉइस का है तो आत्मविश्वास अपने चरम पर होता है और सफल होने के पूरे  चांसेस होते है | आत्मविश्वास एक ऐसी चाबी है जिससे अच्छे बड़े से बड़ा लक्ष्य भी बड़ी आसानी से प्राप्त किया जा सकता है |  

  • इनोवेटिव आइडिया –

अच्छे इनोवेटिव आईडिया तभी आते है जब किया जा रहा काम अपनी मर्ज़ी के मुताबिक हो और ये तभी संभव है जब हम अपनी हॉबी को ही अपना काम बना ले |

टैलेंट को कैसे पहचाने ?

  1. जब हम किसी काम को करने लगे और उस काम को करने में  इतना मग्न हों जाय कि समय का बिलकुल भी पता नहीं रहे तो वह काम हमारी हॉबी हो सकता हैं ।
  2. जिस काम के बारे में हमें ज्यादा जानने की आवश्यकता महसूस हों और इसके लिए हम कही से भी जानकारी जुटाने को तत्पर  रहे, वो ही हॉबी होती है ।
  3. जो शौक होता हैं उससे संबन्धित हर एक्टिविटी मे भाग लेने की इच्छा होती है और उससे संबन्धित कोई भी कार्यक्रम नहीं छोड़ सकते हैं ।
  4. अपने शौक को पूरा करने के लिए हम हर प्रकार से समझौता कर सकते हैं, हर शर्त मानने को तैयार रहते हैं, बस शौक पूरा होना चाहिए ।
  5. हमें अपने शौक को प्रदर्शित करने के लिए हमेशा एक मौके की तलाश रहती हैं और जैसे ही हमे इसके लिए अवसर मिलता हैं हम हमेशा तैयार रहते और कोई भी मौका नहीं चूकते हैं ।
  6. स्वयं के गुणों को हम खुद नहीं पहचान सकते है, इसके लिए हमारे आसपास के लोग इसकी सही पहचान कर सकते हैं । इसके लिए परिवार के सदस्य , फ्रेंड्स , सहकर्मी , पड़ोसी किसी को भी शामिल करके अपने छुपे हुए गुण पहचान कर सामने ला सकते  हैं ।

Begin typing your search above and press enter to search. Press ESC to cancel.

Back To Top