पर्सनलिटी कैसे निखारें ?

385 0

हमारा व्यक्तित्व (पर्सनालिटी) हमारे विचार और चिंतन से बनता हैं जिसका कई बार  हम इसका प्रयोग करते हैं | किसी की पर्सनलिटी अच्छी होती हैं तो किसी की पर्सनालिटी में कुछ कमियाँ । व्यक्तित्व किसी व्यक्ति का वह पक्ष होता है जिससे दुसरे लोग उसके बारे में अच्छी या बुरी राय कायम करते है जैसे कि खाने पीने,बोलचाल,रहन सहन,हाव भाव,चलने फिरने आदि का सलीका | अगले आदमी पर फर्स्ट इंप्रेशन इन्ही का पड़ता हैं । एक व्यक्ति स्वयं व्यक्तित्व को एनेलाइज़ कर सकता हैं, कमिया पता करके उन्हे दूर भी कर सकता हैं इसे पर्सनलिटी ग्रूमिंग कहते हैं ।

पर्सनलिटी कैसे इंप्रूव करे ?

  1. फिटनेस–

व्यक्ति की फिटनेस पर्सनलिटी को निखारती हैं । व्यक्ति को आपनी सेहत का पूर्ण ध्यान रखना चाहिए । नियमित व्यायाम, दिनचर्या ,योग , संतुलित भोजन आदि रूटीन मे लाकर हमेशा फिट रह सकता हैं ।

  • कोन्फ़िडेंस –

सामने वाले पर अच्छा इंप्रेशन डालने के लिए हर काम को आत्मविश्वास के साथ करना चाहिये ताकि बेहतर परिणाम प्राप्त हो सके । कोन्फ़िडेंस बहुत जरूरी हैं ।

  • कम्यूनिकेशन –

व्यक्ति का कम्यूनिकेशन स्किल इंप्रेसिव होना चाहिए क्योकी स्मार्ट कम्यूनिकेशन स्मार्ट रिजल्ट देता हैं जो बहुत ही प्रभावशाली होता हैं ।

  • ड्रेसिंग स्टाइल –

ड्रेस पहनने का तरीका व्यक्ति के आचरण पर निर्भर हैं । जिस प्रकार हर व्यक्ति के लिए एक अलग पोशाक हैं ठीक उसी प्रकार हर परिवेश के लिए एक अलग ड्रेसिंग स्टाइल होती हैं, जैसे पार्टी मे केजुअल,ऑफिस मे फॉर्मल आदि तो हर परिवेश मे उसी अनुरूप ड्रेस स्टाइल का चुनाव करे और हमेशा साफ सुथरी ओर आइरन की हुई ड्रेस पहने ।

  • व्यवहार –

किसी भी व्यक्ति का व्यवहार उसकी नेचर पर निर्भर हैं और व्यक्ति का नेचर लिविंग इनवायरमेंट पर निर्भर होता हैं । हमेशा सभ्य व्यवहार हो , उदार और शांत स्वभाव होना चाहिए ।  चाहे कोई भी परिस्थिति हो व्यक्ति को अपना व्यवहार नहीं बदलना चाहिये | हाँ, यदि आप को जल्दी गुस्सा आ जाता हैं, चिड़चिड़ापन हैं तो इसमे जरूर बदलाव करना चाहिए ।

  • बॉडी लैंगवेज़ –

जिस प्रकार किसी के सामने किसी चीज को व्यक्त करने के लिए किसी ना किसी लेंग्वेज की आवश्यकता होती है उसी प्रकार मन की स्थिति को समझने के लिए बॉडी लेंग्वेज एक माध्यम है जिससे अगला आदमी समझ सके । हाव भाव , आई कोंटेक्ट , एक्सप्रेशंस , चलने का तरीका आदि सभी बॉडी लैंगवेज़ के भाग हैं इन सभी का पूर्ण ध्यान रखना चाहिए ।

पर्सनलिटी ग्रूमिंग

जब भी हम किसी सक्सेसफुल प्रोफेशनल को देखते हैं तो हमेशा हम यही सोचते हैं की आखिर वे इस जगह कैसे पहुचे । जब भी मौका मिले तो सक्सेसफुल प्रोफेशनल से हमेशा कुछ ना कुछ सीखे , और उसे अपने एक्सपीरियंस मे इन्क्ल्युड करे । जिससे आप भी अपनी पर्सनलिटी ग्रूम हो सकती हैं –

  1. हमेशा लोगो को सिर्फ सुने किसी प्रकार का रिएक्शन ना दे यानि कई ऐसे लोग होते हैं जो सिर्फ आपकी कामिया निकालते हैं , आपकी सफलता से चिड़ते हैं | कभी भी इन सबके पीछे उनका मकसद आपको सफल बनाने या आगे बढ़ाने का नहीं होता इसलिए हमेशा लोगो की सिर्फ सुने । हम अक्सर ये ही मानते है की यदि मैं ऐसा करता हूँ तो लोग क्या कहेंगे । लोगो के कहने पर यदि ध्यान देंगे तो अपनी सामर्थ्य खो देंगे । हमेशा नकारात्मक विचार आयेँगे और कोई भी काम हम कर नहीं कर पाएंगे ।
  2.  जब हम पब्लिकली कोई एक्टिविटी कर रहे हैं और अगर हमे इस एक्टिविटी का रिएक्शन पता करना हैं तो हमे लोगों की बॉडी लेंग्वेज बारीकी के स्टडी करने का अच्छा नॉलेज होना चाहिए ताकि उनके मन मे क्या चल रहा हैं भली भाति समझ पाएँ | अतः हमे बॉडी लेंग्वेज पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता होती हैं ।
  • पॉज़िटिव मैनरिज्म्स मे टाइट हेंडशेक,सीधे बैठने,कोन्फ़िडेंस के साथ मुस्कराने जैसी कई जेश्चर शामिल हैं जिनका प्रयोग हर सिचुएशन मे यूज करके पर्सनल और प्रोफेशनल आइडेंटिटी को सुनिश्चित कर सकते हैं ।

Begin typing your search above and press enter to search. Press ESC to cancel.

Back To Top