पेट की चर्बी कैसे कम करे ?

1373 0

आज ज्यादातर जो लोग मोटापे से परेशान है वे उसमें सबसे ज्यादा पेट की चर्बी के कारण परेशान है| पेट की चर्बी बढ़ने का मुख्य कारण आलस करना,ज्यादा सोना,खाने पीने का ध्यान नहीं रखना,न्यूट्रिशियन का प्रयोग कम करना आदि हो सकते हैं। पेट पर जमा ज्यादा चर्बी नुकसानदायक होती हैं और इससे कई घातक बीमारियाँ जैसे थाइराइड , बीपी,शुगर हो सकती हैं । चलिए बात करते है पेट की चर्बी बढ़ने वाले कारणों की और उन उपायों की जिनकी मदद से आप इस चर्बी को कम कर सकते है –

पेट की चर्बी बढ़ने के कारण-
1. आनुवांशिक: बैली फैट जेनिटिक भी होता है यदि ये परेंटल हैं तो स्वाभाविक है की बच्चो मे भी हो सकता हैं ।
2. कमजोर पाचनतंत्र: ज्यादा या भारी भोजन करने से भोजन पचने मे कठिनाई होती है, कभी कभी पाचनतंत्र कमजोर होने पर भी पाचन सुचारु रूप से नहीं हो पाता फलस्वरूप टमी बढ़ जाती है ।
3. तनाव: तनाव से भी बैली फैट बढ़ जाता है । तनाव के कारण रक्त मे कार्टिसोल बढ़ता हैं, जिस कारण फैट बढ़ता हैं ।
4. ज्यादा बैठक: लगातार बैठक से भी टमी बढ़ जाती हैं अतः भोजन करने के पश्चात थोड़ा घूमना चाहिए ।   
5. कम प्रोटीन, ज्यादा फैट: कभी कभी हम कुछ नहीं खाते हैं भूखे रहते है और कभी कभी आवश्यकता से अधिक खा लेते है | इसके अलावा  पोषक तत्वों का भी ध्यान नहीं रखते और स्वाद के चक्कर मे कुछ भी  खा लेते है जो कम प्रोटीन ओर अधिक फैट वाले खाद्य होते हैं, जो कि  टमी बढ्ने का प्रमुख कारण होता हैं ।

पेट की चर्बी कम करने के लिए खानपान (डाइट)-
1. उठाते ही खाली पेट गुन गुने पानी मे नींबू डालकर पीये
2. कुछ देर बाद कुछ बादाम का सेवन करे जिससे भूख कम लगती हैं ।
3. नाश्ते मे कम फैट वाले दही ओर चपाती का प्रयोग करे| इसके अलावा ब्राउन ब्रेड या ओट्स का भी प्रयोग कर सकते हैं ।
4. मौसमी फल एवं सलाद का प्रयोग करे ।
5. भोजन मे मिक्स सब्जी ओर हल्की चपाती का प्रयोग करे ।
6. दिन मे एक या दो बार ग्रीन टी या नारियल पानी लेवे ।
इनके प्रयोग से बचे-
1. डिब्बाबंद खाना      
2. जंक फूड
3. स्टार्च युक्त आहार 
4. तंबाकू , सिगरेट , शराब
5. अधिक नमक,चीनी  
6.  मैदा


पेट की चर्बी कम करने के तरीके –
1. संतुलित मात्रा में भोजन: भोजन मे हर तत्व की संतुलित मात्रा होनी चाहिए । आवश्यकता से आधिक भोजन नहीं करना चाहिए । शाम के वक्त हल्का भोजन करना चाहिए ।
2. ज्यादा पानी: पानी भोजन के पाचन के लिए उचित रहता हैं अतः रेगुलर उचित मात्रा मे पानी का प्रयोग करना चाहिए ।खाना खाने से आधा घंटा पहले और बाद में पानी नहीं पीना चाहिए और ना ही ठंडा पानी पीना चाहिए | सदैव गुनगुने पानी का प्रयोग ही करना चाहिए |
3. नाश्ता करना : कभी कभी लोग नाश्ते को ईग्नोर कर देते है लेकिन नाश्ता करना चाहिए क्योकि अधिक भूख की अवस्था मे जो अधिक भोजन कर लिया जाता है उसी के फलस्वरूप टमी बढ़ जाती हैं ।
4 ग्रीन टी: ग्रीन टी बैली फैट को शीघ्रता से कम करता है क्यो की प्रचुर मात्रा मे मेटाबोलिज़्म को बढाता हैं ।
5. पोटेशियम युक्त आहार: पपीता , कैला , आम ओर खरबूज मे पोटेशियम की मात्रा भरपूर होती हैं अतः इनको आहार मे शामिल करना चाहिए ।
6. फल ओर सब्जियों का प्रयोग: हमेशा फल ओर सब्जियों का प्रयोग करना चाहिए । अपने खाने में सुबह और शाम 1 रोटी को कम करके इसकी भरपाई सलाद से करनी चाहिए |
 
पेट की चर्बी कम करने के घरेलू उपचार
1.जॉगिंग: रोज जॉगिंग करने से ह्रदय सही से काम करता है| कैलोरी को कम करने के लिए जोगिंग अच्छा विकल्प है जो बैली फैट को शीघ्रता से कम करता हैं ।
2. जौ ओर चने का आटा: गेहु के आटे के बजाय जौ और चने का आटा बराबर मात्रा मे लेकर उसकी रोटी खाये।
3. पानी ओर शहद : गुन गुने पानी मे 2 चम्मच शहद डालकर खाली पेट पीने से टमी कम होती हैं ।
4. लौकी का जूस  : लौकी मे मोजूद तत्व आसानी से बैली फैट कम करने मे सहायक हैं अतः इसका प्रयोग करना चाहिए ।
5. अंकुरित दाले : अंकुरित दाले (स्प्राउट्स) मे पेट को भरे रखने की विशेषता होती है और इसके सेवन से बार बार भूख नहीं लगती अतः इसको भी आहार मे शामिल करना चाहिए ।
6. अजवाइन : अजवाइन के साथ काली मिर्च , सेंधा नमक , जीरा के साथ छाछ के साथ लेने टमी कम होती हैं ओर स्लिम बनने मे मदद करते हैं ।

Begin typing your search above and press enter to search. Press ESC to cancel.

Back To Top