आयुष्मान भारत योजना क्या हैं?

642 0

सैंट्रल गवर्नमेंट की आयुष्मान भारत हेल्थ स्कीम (प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना यानी PM-JAY ) लॉन्च की गई हैं ।  इस स्कीम से देश के गरीब लोगों को बड़े  हॉस्पिटल में इलाज कराने की सुविधा मिलेगी।  यह एक प्रकार से भारत सरकार द्वारा लॉंच की गई हेल्थ इंश्योरेंस स्कीम है।  इसमें इलाज का खर्च हेल्थ इंश्योरेंस लेने वाले व्यक्ति को नहीं देना होगा। माननीय प्रधानमंत्री महोदय ने इसके बारे मे बताया हैं कि 5 लाख हेल्थ इंश्योरेन्स वाली जन आरोग्य स्कीम का लाभ 10 करोड़ परिवारों को मिलेगा । PM-JAY स्कीम का उद्देश्य गरीब, वंचित ग्रामीण परिवारों और शहरी श्रमिकों के परिवारों की कैटेगरी को हेल्थ इंश्योरेंस उपलब्ध कराना है।  यह स्कीम कैशलेश और पेपरलेस हैं इस स्कीम के अन्तर्गत सरकारी और प्राइवेट हॉस्पिटल में इलाज कराया जा सकता हैं ।

PM-JAY स्कीम की विशेषताएँ

इस स्कीम की लिस्ट में शामिल सभी राज्यों के हॉस्पिटल में कियोस्क बनाये गये है , इस स्कीम के बैनर लगाये गए हैं । हॉस्पिटल में मौजूद आरोग्य मित्र PM-JAY को लागू करने में विशेष  भूमिका हैं ।

इस योजना के तहत 10 करोड़ परिवारों को इस योजना का फायदा मिलेगा , जिसके लिए आधार नंबर से परिवारों की लिस्ट तैयार की गई है और इन परिवारों को इस स्कीम का लाभ मिलेगा। लिस्ट बनने के बाद इस योजना का लाभ लेने के लिए किसी पहचान पत्र की आवश्यकता नहीं होगी।

गरीबी रेखा से नीचे जीवनयापन करने वाले लोगों को इसका बेनीफिट मिलेगा । स्कीम में नाम कनफर्म करने के लिए 2 प्रकार से चेक कर सकते हैं –

Mera.pm.jay.gov.in पोर्टल पर चेक कर सकते हैं। इसके लिए होम पेज पर मोबाइल नंबर इन्सर्ट करने का ऑप्शन होगा इसमे अपना मोबाइल नंबर इन्सर्ट करे । मोबाइल पर एक ओटीपी आएगा । ओटीपी डालते ही आपका नाम कनफर्म हो जाएगा । मोबाइल से 14555 पर कॉल करके, हॉस्पिटल में जाकर भी यह पता कर सकते हैं ।

आयुष्मान भारत योजना के फायदे

पेशेंट्स को हॉस्पिटल में एडमिट होने के बाद अपने इंश्योरेंस के डोक्यूमेंट्स सबमिट करने होंगे जिनके आधार पर हॉस्पिटल इलाज में होने वाले एक्स्पेंसेज की इन्फ़ोर्मेशन इंश्योरेंस कंपनी को देंगे और क्लाइण्ट के डोक्यूमेंट्स वेरिफाई होते ही फ्री ट्रीटमेंट हो सकेगा।

इस योजना के तहत बीमित व्यक्ति सरकारी एवं प्राइवेट हॉस्पिटल में भी  इलाज करवा सकेगा । प्राइवेट हॉस्पिटल को भी इस स्कीम में इंकल्यूड किया जा रहा हैं ताकि सरकारी हॉस्पिटल में भीड़ कम होगी ।

इस योजना के तहत देशभर में डेढ़ लाख से ज्यादा हेल्थ और वेलनेस सेंटर ओपन किए जाएँगे जिनमे आवश्यक दवाएं और जांच सेवाएं फ्री उपलब्ध करवाई जाएगी ।आयुष्मान भारत योजना का लाभ उठाने के लिए आधार कार्ड की जरूरत नहीं है। इस योजना के तहत मैटरनल हेल्थ और डिलीवरी की सुविधा, नवजात और बच्चों के स्वास्थ्य, किशोर स्वास्थ्य सुविधा, कॉन्ट्रासेप्टिव सुविधा प्रोवाइड करवाई जाती हैं ।

संक्रामक, गैर संक्रामक रोगों के कंट्रोलिंग की सुविधा, आंख, नाक, कान और गले से संबंधित बीमारी के इलाज के लिए अलग से यूनिट होगी। बुजुर्गों का इलाज भी करवाया जा सकेगा।

आयुष्मान भारत योजना के दो मुख्य कम्पोनेंट्स हैं

  • 10.74 लाख परिवारों को 5 लाख रुपए तक का हेल्थ इंश्योरेंस ।
  • हेल्थ वेलनेस सेंटर जिसमें देशभर के प्राथमिक  स्वास्थ्य केंद्र अपडेट होंगे। इन सेंटर्स पर इलाज के साथ मुफ्त दवाइयां भी मिलेंगी ।

Begin typing your search above and press enter to search. Press ESC to cancel.

Back To Top