इंडस ऑपरेटिंग सिस्टम क्या हैं ?

563 0

फ्रेण्ड्स आज हम सभी  स्मार्ट फ़ोन यूज़ करते है । सभी फोन मे ऑपरेटिंग सिस्टम एंड्राइड या IOS होता है । ये सभी ऑपरेटिंग सिस्टम  इंग्लिश में होते है जिन लोगो को इंग्लिश का नॉलेज नहीं होता उन्हे स्मार्ट फोन यूज करने मे समस्याएँ आती हैं । ऐसे में Indus Os उन लोगो के लिए बहुत अच्छा है जो केवल रिजनल लेंग्वेज़ ही जानते है उनके लिए अब फ़ोन चलाना बहुत ही सरल हो जायेगा क्यूंकि ये 12 रीजनल लैंग्वेज को सपोर्ट करता है और इसके सभी एप्लीकेशन भी इन भाषाओ में अवेलेबल  है ।

इंडस ओएस क्या हैं ?

इंडस ओएसदुनिया का पहला रीजनल ऑपरेटिंग सिस्टम है जो भारत का अपना ओएस हैं । इनकी सैमसंग के साथ पार्टनरशिप है ।

इंडस ओएस के फीचर्स

इंडस ऑपरेटिंग सिस्टम के अपने कुछ यूनिक फीचर्स है जो  इसे दूसरे ओएस  से अलग करते है । आइये जानते हैं इस ओएस के फीचर्स के बारे मे –

  • इंडस स्वाइप

इस फीचर के द्वारा टेक्स्ट को स्वाइप करके रीजनल लैंग्वेज से इंग्लिश में और इंग्लिश से अपनी रीजनल लैंग्वेज में बदल सकते है ।

  • इंडस रीडर

इसमें टेक्स्ट टू स्पीच का ऑप्शन होता है जो 9 रीजनल लैंग्वेज को सपोर्ट करता है ।

  • ऑटो करेक्शन

इनके डाटा बेस में दो लाख से भी ज्यादा वर्ड है जो रीजनल लैंग्वेज में है जो इनके ऑटो करेक्ट को बेहतर बनाते है और यूजर की टाइपिंग में हेल्प करते है ।

  • फास्ट टाइपिंग

इसमें वर्ड और मात्रा दोनों का आइडिया लगा लिया जाता है जिससे अपनी टाइपिंग स्पीड बढ़ जाती है । फ्री मैसेजिंग  का आप्शन भी इसमे मिलता है लेकिन इसके लिए दोनों यूजर के फोन मे इंडस ओएस होना जरूरी हैं ।

  • हाइब्रिड कीबोर्ड

इंडस में हाइब्रिड कीबोर्ड होता है जिससे इंग्लिश कीबोर्ड का यूज करते हुए रीजनल लैंग्वेज में टाइपिंग कर सकते है ।

  • इंडस दुसरे ऑपरेटिंग सिस्टम से डिफरेंट

इंडस एक रिजनल ओएस है और इसके स्पेसिफिक वर्जन भारत और बांग्लादेश में लांच किये गए है । इसके सभी एप्प , मेन्यू , कीबोर्ड  रीजनल लैंग्वेज में होने से  दुसरे ऑपरेटिंग सिस्टम से इसे डिफरेंट बनाता है।

  • एप्प बाज़ार

इनका अपना खुद का एप्प स्टोर है जो एप्प बाज़ार के नाम से मिलेगा । अगर आपके पास कोई इंडस ओएस वाला फ़ोन है तो आप इनके एप्प्स को डाउनलोड कर सकते है अभी ये ऑपरेटिंग सिस्टम माइक्रोमेक्स , इंटेक्स  , कार्बन के कुछ सेलेक्टेड मॉडल्स में ही उपलब्ध है।

निष्कर्ष

Indus Os उन लोगो के लिए बहुत अच्छा है जो केवल रिजनल लेंग्वेज़ ही जानते है उनके लिए अब फ़ोन चलाना बहुत ही सरल हो जायेगा क्यूंकि ये 12 रीजनल लैंग्वेज को सपोर्ट करता है और इसके सभी एप्लीकेशन भी इन भाषाओ में अवेलेबल  है । आने वाले कुछ सालों में यह ओएस आपको स्मार्ट फोन में एंड्राइड की जगह देखने को मिलेगा क्यूंकि इनका मार्केट शेयर बढ़  रहा है । साथ ही बड़ी मोबाइल कंपनिया भी इससे जुड़ती जा रही है । जैसे की हमे पता हैं देश कोरोना महामारी के दौर से गुजर रहा हैं और हमारे माननीय प्रधान मंत्री श्री मान नरेंद्र मोदी जी की मुहिम ‘ भारत को आत्म निर्भर बनाना ’ चल रही हैं । वोकल फॉर लोकल योजना चलाये जाने से देश की अर्थव्यवस्था को सम्बल मिलेगा । ऐसे में हमे भी अपने देश की प्रतिभा को आगे बढाना चाहिए । हमारा देश काफी ताकतवर  है इंडस ये दर्शाता है की हम भी अपना खुद का मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम बना सकते है । तो दोस्तों आज हमने जाना भारत के अपने ओएस इंडस के बारें मे ।  मैं आशा करता हूँ आपको हमारा ये पोस्ट पसंद आया होगा । आप भी वोकल फॉर लोकल को बढ़ावा देने के लिए इस ओएस को जरूर प्रयोग करेंगे । धन्यवाद

Begin typing your search above and press enter to search. Press ESC to cancel.

Back To Top