वीडियो कॉलिंग में भूलकर भी ये गलतियाँ ना करें !

520 0

आज शायद ही कोई ऐसा आदमी होगा जो स्मार्टफोन तो use करता हो लेकिन उसमे सोशल  मीडिया जैसे facebook, whatsapp और google का use ना करता हो | और अगर आप इन application का use करते है तो आप वीडियो calling का भी जरूर use करते होंगे लेकिन फ़्रेंड्स क्या आप जानते है वीडियो कॉलिंग जितनी अच्छी और सुविधाजनक है उतनी ही खतरनाक भी हो सकती है अगर इसे सही तरीके से use नहीं किया जा रहा है तो |

आपने अब तक लोगो के ऐसे बहुत से पर्सनल  विडियो देखे होंगे जो काफी वायरल हो चुके है और जो कोई भी person नहीं चाहेगा की वो सब लोगो तक पहुंचे , लेकिन बावजूद इसके ये विडियो लीक हो जाते है और मार्केट में  फ़ेल जाते है | आखिर ये वीडियो कॉलिंग के विडियो लीक कैसे हो जाते है जबकि सारी बड़ी बड़ी कंपनियाँ अपना डाटा safe और secure होने का दावा करती है | तो क्या ये कंपनियाँ खुद ये विडियो लीक करती है या कोई और एजेन्सीस इस काम को अंजाम देती है ? और अगर विडियो कॉलिंग के विडियो लीक हो जाते है तो क्या हमे विडियो कॉलिंग नहीं करनी चाहिए ? क्या कोई ऐसा  तरीका है जिससे हम सेफ विडियो कॉलिंग कर सके ? तो आइये discuss करते है उन गलतियों को जो आपको विडियो कॉलिंग के दौरान कभी नहीं करनी है –

सबसे पहले हम ये समझते है जब भी हम किसी भी app के through विडियो कॉल करते है तो इस process में तीन parties involve होती है | एक आप जो कॉल कर रहे है, एक वो पर्सन जो इस कॉल को receive कर रहा है और तीसरा इंटरनेट platform जिसके माध्यम से ये कॉल की जा रही है | अब यहाँ दो कंडिशन बनती है जिस से हमारा data leak हो सकता है –

1. -पहली कंडीशन में जब हमारा सामने वाला person faithful ना हो यानि कि वो इस कॉल को रेकॉर्ड कर रहा हो | यहाँ मोस्ट ऑफ लोगो का यही सवाल होता है कि जब whatsapp में, facebook में और गूगल डुओ में विडियो कॉल रिकॉर्डिंग का option  ही नहीं होता है तो कोई भला हमारा कॉल कैसे कर सकता है | और वैसे भी हम जिस person को वीडियो कॉल करते है वो तो  हमारा failthful यानि की विश्वसनीय है |

ठीक इसी जगह हम दो गलतियाँ कर रहे है – पहली कि,  वीडियो कॉल रेकोर्डिग सोश्ल मीडिया application के थ्रू नहीं होती बल्कि स्क्रीन रिकॉर्डर एप्स के माध्यम से होती है | अगर आपको practically इस चीज़ को कर के ही देखना है तो आप अपने फोन के play store में जाये और स्क्रीन रिकॉर्डर टाइप करे तो आपको ढेर सारे स्क्रीन रिकॉर्डर एप्स मिल जाएगी | इनमे से किसी भी एप को आप अपने मोबाइल मे install कर लीजिये और इस एप को activate कर लीजिये | अब आपके मोबाइल कि पूरी स्क्रीन रेकॉर्ड होना शुरू हो गयी है मतलब कि आपकी हर एक्टिविटी बाकायदा विडियो form में आपके मोबाइल मे सेव हो रही है | ऐसे में यदि आप कि सी को विडियो कॉल करते है तो सामने वाले को पता चले बिना ही आप इस पूरे विडियो कॉल को अपने मोबाइल में सेव कर सकते है | और हमारी दूसरी गलती ये होती है कि जिस person को हम आज faithful विडियो कॉल कर रहे है, कोई ज़रूरी तो नहीं है वो हमेशा हमारे लिए faithful ही रहेगा | इसीलिये ये highly recommend किया जाता है कि आप कभी भी किसी के भी साथ अपने प्राइवेट moments विडियो कॉलिंग के माध्यम से share ना करे |   

2. दूसरी कंडीशन में जब आपको पता चले बिना ही आपका डाटा चोरी हो रहा हो | आज अनेको ऐसी कम्पनीज मार्किट में मौजूद है जो आपको मनचाहे नंबर की पूरी जानकारी मुहैया करवा रही है | बहुत से लोग विडियो कॉलिंग के लिए व्हाट्सएप जीबी जैसे असुरक्षित ब्राउज़र का उपयोग करते है जो बहुत खतरनाक है |याद रखिए कि विडियो कॉलिंग आपके लिए एक सुविधा है जिसका उपयोग कैसे करना है ये हमे अच्छे से पता होना चाहिए अन्यथा अनर्थ हो सकता है |

अंत में इन ज़रूरी टिप्स को हमेशा याद रखिए –

1 हमेशा official प्लेस्टोर से डाउनलोड कि गई एप्लिकेशन से ही विडियो कॉल करें |

2. किसी भी सूरत में अपने प्राइवेट पलों को विडियो कॉलिंग के माध्यम से शेयर ना करें |

3. किसी भी अनजाने लिंक से किसी भी एप्लिकेशन को इन्स्टाल ना करें |

4. चाहे सामने वाला यूजर कितना भी भरोसेमंद क्यों ना हो लेकिन कभी भी विडियो कॉलिंग के दौरान अपने घर, ऑफिस, बेडरूम के और व्यक्तिगत विडियो ना भेजे |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Begin typing your search above and press enter to search. Press ESC to cancel.

Back To Top