किसी लक्ष्य को प्राप्त कैसे करे ?

760 0

सफल व्यक्ति बनने, अपनी अलग पहचान बनाने के लिए जीवन मे  एक लक्ष्य होना आवश्यक हैं । जो लोग अपने जीवन मे लक्ष्य निर्धारित करते हैं , वे अपने लक्ष्य की तरफ धीरे धीरे बढ़ते है और अंत मे उसे हासिल भी कर लेते हैं जबकि अन्य लोग अपने जीवन में अनेक रास्तो पर चलते है, वे ये डिसाइड नहीं कर पाते की उन्हें करना क्या है और अपने लक्ष्य से भटक जाते है। जब तक हमारे जीवन का कोई उद्देश्य नहीं होगा तब तक हम भटकते रहेंगे और हमे मंजिल नहीं मिल पाएगी । अतः हमे अपने जीवन मे लक्ष्य निर्धारित कर उसे हाँसिल भी करना जरूरी हैं । लोग लक्ष्य निर्धारित तो कर लेते हैं लेकिन उसे हाँसिल नहीं कर पाते हैं । इसके पीछे क्या कारण हैं कैसे निर्धारित लक्ष्य को हासिल किया जाये , इसके कुछ ऐसे उपाय हैं जिनके माध्यम से आसानी से लक्ष्य को हासिल कर सकते हैं ।

  1. हासिल क्या करना है ?

हमे क्या हासिल करना हैं, हमारे जीवन का लक्ष्य क्या हैं, जब तक हम ये तय नहीं कर पाएंगे तब तक हमारा मन भटकता रहेगा अतः हमारे जीवन मे कोई न कोई लक्ष्य होना जरूरी हैं।

  • हासिल कैसे होगा ?

हम जो भी लक्ष्य निर्धारित करते हैं उसे प्राप्त करने लिए आवश्यक स्टेप निर्धारित कर लिस्ट बनाए ताकि बिना रुकावट के आसानी से हम निर्धारित  लक्ष्य को हाँसिल कर सके ।

  • खुद को तैयार करें –

लक्ष्य प्राप्ति के लिए सबसे पहले हमे खुद को तैयार करना होगा । जब तक हम इसके लिए तैयार नहीं होंगे तब तक इसमे सफलता के बारे मे सोच भी नहीं सकते हैं ।

  • हर समय सही समय है-

हम लक्ष्य निर्धारित तो कर लेते हैं लेकिन इसे प्राप्त करने के लिए काम की शुरुआत करने के लिए सही समय का इंतजार कर करते हैं और काम को आगे से आगे टालते रहते हैं । यदि सफल होना हो तो किसी का इंतजार नहीं करें ।

  • एक्सपर्ट्स की सलाह लें –

सफल व्यक्तियों से राय मशवरा करने मे हिचकिचाना नहीं चाहिए । किसी भी तरह की समस्या अगर हम लक्ष्य प्राप्ति मे महसूस करते हैं तो तुरंत एक्सपर्ट लोगो से एडवाइज़ ले ।

  • प्लान B तैयार रखे –

लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए मुख्य ऑप्शन के अलावा अन्य ऑप्शन भी अपनाए। जिससे काम मे किसी प्रकार की रुकावट ना आए ।

  • खुद पर काम करें –

लक्ष्य निर्धारन के पश्चात स्वयं अपनी योग्यता की जांच करें । कही पर भी किसी प्रकार की कमी महसूस होने पर उसे तुरंत पूरी करें ताकि ये कमी प्रगति मे बाधा ना बन पाये ।

  • सकारात्मक रहे-

यदि सफल होना है तो हमेशा पॉज़िटिव रहना आवश्यक हैं । नेगेटिव थिंकिंग से मन विचलित होता हैं साथ ही बार बार असफलता का मुंह देखना पड़ता हैं ।

  • अपना लक्ष्य भूलें नहीं –

अपने लक्ष्य की बार बार कल्पना करे । कई बार ऐसा होता हैं की लक्ष्य निर्धारित तो कर दिये जाते हैं लेकिन उनका  क्रियान्वय नहीं हो पाता अतः जब तक हम लक्ष्य हांसील ना कर ले तब तक लक्ष्य की कल्पना करते रहे ।

  • लक्ष्य प्राप्ति और स्वास्थ्य –

लक्ष्य हाँसिल करने के लिए हमारा एक्टिव एवं स्वस्थ रहना जरूरी हैं । ऐसा नहीं की हम एक ही दिन मे सफल हो जाये लगातार बिना रुके काम करते रहेंगे तो हम शारीरिक एवं मानसिक रूप से अस्वस्थ हो जाएँगे और जो भी काम यहाँ तक किए हैं वो यही रुक जाएँगे । अतः निरंतर थोड़ा थोड़ा प्रयास करे साथ ही शारीरिक एवं मानसिक रूप से भी पूर्ण रूप से स्वस्थ रहे ।  

  • अपने गड़े मुर्दे ना उखाड़े –

हम क्या प्राप्त नहीं कर सके? क्या खोया? ये पास्ट था, आगे क्या होगा ? अगर नहीं हुआ तो क्या होगा? ये सभी सवाल आपको कभी आगे नहीं बढ़ने देंगे इसलिए याद रहे कि हमें पास्ट को भूलकर फ्यूचर मे कुछ प्राप्त करने के लिए हमे वर्तमान मे जीना होगा तभी हम भविष्य मे कुछ प्राप्त कर पाएंगे ।

  • कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती –

हमेशा स्वयं को इंस्पायर करें जिससे हम कभी भी डगमगाये नहीं और निरन्तर आगे बढ़ते रहे । ये जरूरी नहीं की एक बार मे ही हम सफल हो जाये और ना ही ये संभव है की हम हर बार सफल होते जाये । कई बार ऐसा समय भी आता हैं कि हमे असफलता का भी सामना करना पड़ता हैं अतः कभी भी असफलता से नहीं डरे एवं तब तक निरंतर प्रयास करते रहे जब तक की सफल ना हो जाये ।

  • नामुमकिन कुछ भी नहीं –

कभी कभी सफलता मिलने मे देर भी हो सकती हैं लेकिन नामुमकिन बिलकुल नहीं है । अतः कभी ये नहीं सोचे की हार गए हैं , धैर्य रखे सफलता जरूर मिलेगी ।

Begin typing your search above and press enter to search. Press ESC to cancel.

Back To Top